none

उपलब्धि / सब लेफ्टिनेंट शिवांगी नेवी की पहली महिला पायलट बनीं, सर्विलांस एयरक्राफ्ट उड़ाएंगी

none

कोच्चि (केरल). सब लेफ्टिनेंट शिवांगी स्वरूप भारतीय नौसेना की पहली महिला पायलट बन गई हैं। उन्होंने सोमवार को कोच्चि नेवल बेस पर ऑपरेशनल ड्यूटी ज्वॉइन की। नौसेना के अफसरों के मुताबिक, शिवांगी ड्रोनियर सर्विलांस एयरक्राफ्ट उड़ाएंगी। इससे पहले एयरफोर्स में भी इसी साल फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कांत फाइटर प्लेन उड़ाने वाली महिला पायलट बनी थीं।

इस मौके पर उन्होंने कहा कि मैं लंबे वक्त से इस पर काम कर रही थी और आखिरकार आज वह दिन आ ही गया। मुझे बहुत अच्छा महसूस हो रहा है। मैं तीसरे चरण के प्रशिक्षण पर ध्यान दे रही हूं। बिहार की रहने वाली शिवांगी फिक्स्ड-विंग डोर्नियर सर्विलांस विमान उड़ाएंगी। ये विमान कम दूरी के समुद्री मिशन पर भेजे जाते हैं। इसमें एडवांस सर्विलांस, रडार, नेटवर्किंग और इलेक्ट्रॉनिक सेंसर लगे होते हैं। शिवांगी को पिछले साल जून में वाइस एडमिरल एके चावला ने औपचारिक तौर पर नेवी में शामिल किया था।

एसएसबी के जरिए नेवी में हुआ चयन
शिवांगी ने 2010 में डीएवी पब्लिक स्कूल से सीबीएसई 10वीं की परीक्षा पास की। 10 सीजीपीए प्राप्त हुआ। साइंस स्ट्रीम से 12वीं करने के बाद इंजीनियरिंग की। एमटेक में दाखिले के बाद एसएसबी की परीक्षा के जरिए नेवी में सब लेफ्टिनेंट के रूप में चयनित हुईं। ट्रेनिंग के बाद पहली महिला पायलट के लिए चयन किया गया। 

ये भी पहली महिलाएं

भावना कांत भारतीय वायुसेना में पहली महिला पायलट बनी थीं। वहीं, कराबी गोगाई नौसेना की पहली महिला डिफेंस अटैची हैं। असिस्टेंट लेफ्टिनेंट कमांडर गोगाई अगले माह रूस में तैनात की जाएंगी। वे कर्नाटक के करवार बेस पर रूसी भाषा में कोर्स कर रही हैं। वे युद्धपोत के निर्माण और उनकी मरम्मत में माहिर मानी जाती हैं।