भोपाल

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्वास्थ्य के लिये 119 करोड़ से अधिक की सौगात दी।

भोपाल


---
सागर संभाग के जिलों की स्वास्थ्य संस्थाओं का हुआ उन्नयन
---
पन्ना को पर्यटन और रोजगार से जोड़ा जायेगा
---
पन्ना के मंदिरों के दर्शन के लिए "टेम्पल वॉक" बनेगा
---
पन्ना में प्रारंभ होगा कृषि महाविद्यालय
---
मुख्यमंत्री श्री Shivraj Singh Chouhan ने कहा है कि पन्ना जिला पवित्र और धार्मिक दृष्टि से महत्वपूर्ण तथा अद्भुत है। इसे पर्यटन और रोजगार से जोड़कर प्रदेश के अग्रणी जिलों में शामिल किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान पन्ना के शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज के प्रांगण में जन-कल्याण और सुराज अभियान में जनसभा को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर सागर संभाग के जिलों को स्वास्थ्य सेवा के क्षेत्र में 119 करोड़ 83 लाख 66 हजार रूपये के 38 कार्यों की सौगात दी। उन्होंने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों एवं उप स्वास्थ्य केन्द्रों के उन्नयन और विकास कार्यों का शिलान्यास, भूमि-पूजन और लोकार्पण किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पन्ना के लिए पूर्व में स्वीकृत कृषि महाविद्यालय प्रारंभ किया जायेगा। पन्ना टाईगर रिजर्व उद्यान के माध्यम से जिले के लोगों को रोजगार के अवसर सुलभ कराये जायेंगे। उन्होंने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की कि पन्ना जिला अस्पताल के लिए सिटी स्केन मशीन का लोकार्पण हो रहा है। जिले में स्वास्थ्य सेवाओं में कोई कमी नहीं रहने दी जायेगी। जिला अस्पताल की क्षमता को 200 बिस्तर से बढ़ाकर 300 बिस्तर किया जायेगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि पन्ना में मंदिरों के गौरवशाली इतिहास को देखते हुए यहाँ "टेम्पल वॉक" बनेगा, ताकि जो पर्यटक खजुराहो आये वे पन्ना भी आकर मंदिरों के दर्शन कर सकें। इससे क्षेत्र में रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। श्री चौहान ने कहा कि पन्ना जिले में हवाई पट्टी बनेंगी। जिले के गाँवों को होम-स्टे योजना में शामिल करने की भी मुख्यमंत्री ने घोषणा की। उन्होंने बताया कि हीरा के लिये प्रसिद्ध पन्ना जिले में डायमंड पार्क स्थापित करने की प्रक्रिया भी प्रारम्भ हो गयी है। श्री चौहान ने शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज में व्यवसाय से जुडे़ नये ट्रेड और इंजीनियरिंग कॉलेज खोलने का आश्वासन भी दिया। उन्होंने कहा कि एक जिला-एक उत्पाद के तहत ऑवला के लिये चयनित पन्ना में ऑवला आधारित प्र-संस्करण केन्द्र स्थापित किया जायेगा। हनुमान भाटा-पवई रोड का कार्य भी शीघ्र होगा।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कलेक्टर को निर्देश दिये कि जिले में जो 2 हजार व्यक्ति कोरोना वैक्सीनेशन से शेष रह गये हैं, उनको शीघ्र वैक्सीन लगायी जाए। यह भी निर्देश दिये कि कोई भी पात्र व्यक्ति आयुष्मान कार्ड से वंचित नहीं रहना चाहिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संभागीय कमिश्नर और कलेक्टर से मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना आदि की जानकारी लेकर सभी पात्र हितग्राहियों को इसमें शामिल करने को कहा। उन्होंने कहा कि गरीबों का राशन खाने वालों के हाथों में हथकड़ी पहनाई जायेगी। श्री चौहान ने जिले के आवासीय भूमि विहीन बंगाली समाज के 150 परिवारों को तत्काल भूमि के पट्टे दिलाये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि किसी भी गरीब को आवासीय भूमि विहीन नहीं रहने दिया जायेगा। प्रत्येक गरीबों को रहने के लिये जमीन का पट्टा दिया जायेगा। जिनके पास पट्टे नहीं हैं उन्हें भूखण्ड दिये जायेंगे। ऐसे गरीब जिनके पास पट्टे हैं, उनके लिये चरणबद्ध तरीके से मकान बना कर दिये जायेंगे। प्रदेश में विभिन्न चरणों में सीएम राइज स्कूल खोले जायेंगे। पन्ना जिले में 3 चरण में 159 सीएम राइज स्कूल खुलेंगे। उन्होंने कहा कि पोषण आहार बनाने का काम ठेकेदारों से लेकर महिलाओं के स्व-सहायता समूहों को दिया जायेगा। उन्होंने निर्देश दिए कि महिलाओं के स्व-सहायता समूहों को विद्यार्थियों के गणवेश सिलने का काम भी सौंपा जाए। उन्होंने मुख्यमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ लेने में जो पात्र हितग्राही छूट गये हैं, सर्वे कराकर उनके नाम सूची में शामिल करने के भी निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिले में सिंचाई और पेयजल की योजनाओं को शीघ्र पूर्ण करवाया जायेगा। अगले तीन साल में पाईप लाइन बिछा कर घर-घर पानी पहुँचाया जायेगा। यह सुनिश्चित किया जायेगा कि प्रतिदिन पेयजल प्रदाय हो। उन्होंने जिले में राजस्व के लंबित मामलों के निराकरण के लिए अभियान चलाने के भी निर्देश दिये।

लोकार्पण और भूमि-पूजन

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सागर संभाग में स्वास्थ्य के क्षेत्र में 119 करोड़ 83 लाख 66 हजार रूपये के 38 कार्यों का शिलान्यास, भूमि-पूजन और डिजिटल लोकार्पण किया। इन कार्यों में निवाड़ी जिला चिकित्सालय का 10 करोड़ की लागत से 60 से 100 बिस्तरों में उन्नयन, जिला चिकित्सालय टीकमगढ़ में 20 करोड़ की लागत से 200 से 300 बिस्तरीय भवन उन्नयन और निर्माण कार्य, 40 करोड़ की लागत से छतरपुर जिले के बड़ामलहरा, पन्ना जिले के पवई, सागर जिले के बंडा, राहतगढ़ के 30 बिस्तरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों का 50 बिस्तरीय सिविल अस्पताल में उन्नयन एवं निर्माण कार्य शामिल है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 22 करोड़ 95 लाख रूपये की लागत से छतरपुर जिले के महाराजपुर, मातगुवां, टीकमगढ़ जिले के बम्हौरीकला और लिधौरा के 6 बिस्तरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों का 30 बिस्तरीय सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में उन्नयन कार्यों का शिलान्यास, 18 करोड़ 47 लाख की लागत के सागर जिले के सिलौंधा, खैराना, झिला, चितौरा, पन्ना जिले के सारंगपुर, दमोह जिले के लुहारी, छतरपुर जिले के बम्होरी, ठकुर्रा, टीकमगढ़ जिले के ककरवाड़ा और निवाड़ी जिले के मडिया के 6 बिस्तरीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों का उन्नयन और निर्माण कार्य, 5 करोड़ 93 लाख 22 हजार की लागत से सागर जिले में पडरिया, तिन्सुआ, पुत्तर्रा, पाटन, पन्ना जिले में बहादुरगंज, नचने, दमोह जिले में चिलोद, बोरदा, छतरपुर जिले में जुझारपुरा, बराखेरा, लुहरपुरा, टीकमगढ़ जिले में तालमउ, उपरारा और निवाड़ी जिले में जनौली उप स्वास्थ्य केन्द्रों के निर्माण कार्यों का शिलान्यास और भूमि-पूजन किया। मुख्यमंत्री ने जिला चिकित्सालय छतरपुर, सिविल अस्पताल हटा और पन्ना जिले के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र अजयगढ़ और जिला अस्पताल सागर में 2 करोड़ 48 लाख लागत के ऑक्सीजन प्लांट का डिजिटल लोकार्पण भी किया।

मंत्री श्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह ने पन्ना के ऐतिहासिक महत्व पर प्रकाश डालते हुए क्षेत्र को रोजगार और पर्यटन से जोड़ने का अनुरोध किया। स्वास्थ्य मंत्री श्री प्रभुराम चौधरी ने कहा कि पन्ना को सागर संभाग के विभिन्न जिलों के विकास कार्यों की शुरूआत का सौभाग्य मिला है। कोविड वैक्सीन के प्रथम डोज में मध्यप्रदेश प्रथम रहा है। उन्होंने बताया कि 2 करोड़ 54 लाख आयुष्मान कार्ड बन चुके हैं। सांसद श्री विष्णु दत्त शर्मा ने कहा कि पन्ना जिला अब पिछड़ा नहीं रह जायेगा। उन्होंने बताया कि हीरा के कारण पूरे विश्व के लोग यहाँ आना चाहते हैं। पन्ना को शिक्षा, स्वास्थ्य, पर्यटन आदि किसी भी क्षेत्र में पिछड़ने नहीं देंगे। खजुराहो के जरिये पन्ना को पर्यटन से जोड़ने के प्रयास किये जा रहे हैं। सकरिया हवाई पट्टी का कार्य भी पूरा हो गया है। जिले की पेयजल और सिंचाई समस्या को भी दूर किया जा रहा है। विधायक सर्वश्री प्रहलाद लोधी, शिवलाल बागरी सहित अनेक जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

प्रारम्भ में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कन्या-पूजन किया। स्वागत उदबोधन मंत्री श्री रामकिशोर कावरे "नानो" ने दिया। स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने ऑवला उत्पादित सामग्री अतिथियों को भेंट की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने हितग्राहियों को प्रधानमंत्री उज्ज्वला और लाड़ली लक्ष्मी योजना के हितलाभ और वन अधिकार के पट्टे वितरित किए।