राजगढ़

ग्राम रसूलपुरा में स्थित मदरसे में विश्व छात्र दिवस के अवसर पर , विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का हुआ आयोजन।

राजगढ़

राजगढ़ 16 अक्टूबर, 2021

           राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली एवं मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण, जबलपुर के निर्देशानुसार आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत समस्त भारत में अखिल भारतीय जागरूकता एवं बाह्य गतिविधियों का 02 अक्टूबर से 14 नवंबर, 2021 तक आयोजन किया जा रहा है। गत दिवस ‘‘आजादी का अमृत महोत्सव’’ कार्यक्रम के अंतर्गत ग्राम रसूलपुरा में स्थित मदरसे में विश्व छात्र दिवस के अवसर पर विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन श्री सचिन जैन, न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी, राजगढ़ के मुख्य आतिथ्य में किया गया।

             षिविर में श्री सचिन जैन न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी, राजगढ़ ने मदरसे में उपस्थितजन से कहा कि, प्रत्येक व्यक्ति को कानून की आधारभूत जानकारी होना आवष्यक है, छात्र जीवन में एक गलत कदम से संपूर्ण जीवन बर्बाद हो सकता है। भारत के संविधान में शिक्षा का अधिकार का प्रावधान है छः से चौदह वर्ष के बच्चों का निःशुल्क शिक्षा शासन  द्वारा उपलब्ध कराई जा रही है न केवल शासकीय विद्यालयों में बल्कि प्राईवेट विद्यालयों में भी शिक्षा के अधिकार अधिनियम के अंतर्गत गरीब बच्चों को भी उच्च श्रेणी की शिक्षा प्राप्त हो रही है। षिक्षा का अधिकार मूलभूत अधिकार है जिसे कोई नहीं छीन सकता है। अधिकारों  के उल्लंघन के लिये उपचार हेतु विधिक सहायता के माध्यम से न्यायालय से सहायता प्राप्त कर सकते है। जब प्रषासन अथवा पुलिस पीडि़त की फरियाद नहीं सुनते है तो न्यायालय पर विष्वास करके न्यायालय में मामले प्रस्तुत किये जा सकते है। इस अवसर पर श्री सचिन जैन न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी, राजगढ़ ने शिक्षा का अधिकार, किशोर शिक्षा के यौन उत्पीड़न का प्रभाव, घरेलू हिंसा, महिला सषक्तिकरण, लैंगिक समानता, कन्या भ्रूण हत्या एवं विधिक साक्षरता क्लब, विधिक सहायता एवं सलाह योजना आदि विषयों पर भी विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री फारूक अहमद्् सिद्दीकी ने आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम के अंतर्गत आयोजित की जा रही गतिविधियों व उद्देश्यों की जानकारी देते हुए कहा कि, माननीय सर्वोच्च न्यायालय की संस्था राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली के निर्देशानुसार जिले के प्रत्येक वर्ग एवं गांव-गांव नगर के प्रत्येक मोहल्ले में विधिक जानकारी का ज्ञान समाज के प्रत्येक व्यक्तियों को हो इस उद्देश्य से विधिक साक्षरता एवं जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे है और निःशुल्क विधिक सहायता की जानकारी दी जा रही हैं ताकि, सभी को समान न्याय मिले और समाज के प्रत्येक व्यक्ति तक न्याय की पहुंच सुलभ हो।

 

आयोजित शिविर में मुख्य अतिथि श्री सचिन जैन, न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी राजगढ़ के साथ श्री फारूक अहमद सिद्दीकी जिला विधिक सहायता अधिकारी, मदरसे के संचालक श्री ताहिर हसन फारूकी, मुफती श्री असलम, मदरसे के सचिव श्री इरफान खॉन मदरसे के सदस्य श्री सदरूद्दीन श्री नासिर खॉन, श्री वसीम बागवान एवं मदरसे के अन्य पदाधिकारी, पैरालीगल वालेंटियर श्री रघुनंदन शर्मा, श्री सोनू यादव, श्री रामनारायण वर्मा, वन स्टॉप सेंटर काउंसलर श्री असलम खॉन, अन्य गणमान्य नागरिक, ग्रामीण व मदरसे के छात्र, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के कर्मचारी श्री सचिन मेवाडे एवं श्रीमती सरिता सोमकुंवर सहायक ग्रेड-3 उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन श्री रघुनंदन शर्मा पैरालीगल वालेंटियर ने किया एवं आभार प्रदर्शन मुफती श्री असलम खॉन व काउंसलर श्री असलम खॉन ने किया कार्यक्रम के पूर्व एवं पश्चात् पैरालीगल वालेंटियर श्री सोनू यादव एवं श्री रामनारायण वर्मा ने ग्राम रसूलपुरा, बटेरी की ढूंगरी, नई दिल्ली,  ज्वालापुरा, जोगीपुरा, फतेहपुर, हरजीपुरा, नाना गांव बरखेड़ा, मवासा खेडी, पाका, उदपुरिया, मनोहरपुरा, मोरपीप्ली, मोतीपुरा, राजपुरा, फूलखेडी, गुराडिया, जलालिया, खजूरी, कल्पोनी मे कुल 20 ग्रामों में डोर-टू-डोर अभियान चलाकर 2218 ग्रामीणों से संपर्क किया तथा विधिक सेवा की जानकारी देकर पेम्प्लेट्स वितरित किये।