इन्दौर

इंदौर / रशियन हैकर्स की वेबसाइट से डाटा लेकर ऑनलाइन ठगी करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

इन्दौर

इंदौर. रशियन हैकर्स की वेबसाइट से एटीएम कार्ड का डाटा लेकर ऑनलाइन ठगी करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने इंदौर में रहने वाले फरियादी के एटीएम कार्ड से 22 हजार रुपए का ट्रांजेक्शन किया था। पुलिस ने आरोपियों के पास से कई लोगों के डेबिट और क्रेडिट कार्ड का डाटा बरामद किया है।


पुलिस के अनुसार 9 दिसंबर 2019 को श्रीजी वैली में रहने वाले अनूप तिवारी ने साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत में अनूप ने बताया था कि उनके एचडीएफसी बैंक के एटीएम कार्ड से 22 हजार रुपए का ट्रांजेक्शन किया गया है। और इस संबंध में उन्हें कोई ओटीपी भी प्राप्त नहीं हुआ था।


मामले में पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर जांच प्रांरभ की थी। जांच के दौरान पुलिस ने इंदौर के शेखर सेंट्रल में रोरिंग वुल्फ मीडिया प्रालि नामक कंपनी का संचालन करने वाले दो युवकों चिराग अलवादी (26) और मुकुल कुमार (19) को पकड़ा। पूछताछ में पता चला कि चिराग हरियाणा के हिसार और मुकुल उत्तरप्रदेश के मुज्जफर नगर का रहने वाला है और वर्तमान में इंदौर में रहकर उक्त कंपनी का संचालन कर रहे थे।
आरोपियों ने पुलिस को बताया कि रशियन हैकर्स की वेबसाइट अंडरग्राउंड मार्केट पर लाखों डेबीट और क्रेडिट कार्ड के डेटा बिक्री के लिए उपलब्ध हैं। आरोपियों ने इसी वेबसाइट से फरियादी के कार्ड का डेटा खरीदा था और 22 हजार रुपए का ट्रांजेक्शन किया था। 


सायबर पुलिस के अनुसार अंतरराष्ट्रीय वेबसाइट पर ऑन लाइन ट्रांजेक्शन के लिए ओटीपी की आवश्यक्ता नहीं होती है जिसके चलते फरियादी को ट्रांजेक्शन का ओटीपी प्राप्त नहीं हुआ था। पुलिस ने आरोपियों के पास से कंप्यूटर और लेपटॉप जब्त किए है जिसकी जांच में कई लोगों के डेबीट और क्रेडिट कार्ड का डेटा मिला है। पुलिस ने उदाहरण देते हुए बताया कि इंदौर के रामबाग में रहने वाले पंकज पिंपल के कार्ड का डेटा भी आरोपियों के पास से बरामद किया गया है। पुलिस द्वारा मामले में कार्रवाई की जा रही है।